Wednesday, 13th December, 2017

चलते चलते

आयुष्मान खुराना ने कहा- "अब नहीं गाऊँगा 'पानी दा रंग' वाला गाना", देश भर में ख़ुशी की लहर

29, Nov 2017 By Ritesh Sinha

मुंबई. जिस तरह प्रधानमंत्री मोदी हर जगह से अपना पुराना रिश्ता बताना नहीं भूलते, उसी तरह अभिनेता आयुष्मान खुराना भी कभी ‘पानी दा रंग देख के’ वाला गाना गुनगुनाना नहीं भूलते। चाहे अवार्ड शो हो, इंटरव्यू हो, कॉमेडी शो हो, या फिर शादी-ब्याह हो, वो हर मौके पर यह गाना चिपका ही देते हैं। भगवान जाने उन्हें इसमें कितना मज़ा आता है, जब देखो तब गिटार लेकर यही गाना निपटाते रहते हैं। शायद कोई दूसरा गाना उन्हें आता ही नहीं!

Ayushmann Khurrana
एलान करके हँसते आयुष्मान

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आयुष्मान लगभग चालीस हज़ार बार इस गाने को टीवी पर दोहरा चुके हैं, फिर भी नहीं थकते। कई लोगों ने शिकायत भी की थी कि बहुत हो गया यार, अब कोई दूसरा गाना पकड़ो! कब तक इसी गाने से महफ़िल लूटते रहोगे!” लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया था।

लेकिन अब जाकर उन्होंने घोषणा की है कि अब वो इस गाने को कभी नहीं गाएंगे। आयुष्मान ने फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए इसका कारण बताया कि, “बस यार! बहुत हो गया! अब मैं इस गाने को होठ भी नहीं लगाऊँगा! अब तो सेट मैक्स पे सूर्यवंशम भी आना बंद हो गयी है, तो मैं ही क्यों इसी से चिपका रहूँ! इसकी जगह मैंने एक नया गाना लिखा है, सा रे गा मा पा..पा..ऊँच्चियाँ लम्बियाँ टालीयाँ वे” अब इस नये गाने के सहारे मैं दस साल निकाल दूंगा!” -उन्होंने सुर लगाते हुए बताया।

“एक्चुअली, लास्ट वीक एक अवार्ड शो वाले ने मुझे बोल दिया कि अगर आपने इस गाने को हाथ भी लगाया तो हम आपको कोई अवार्ड नहीं देंगे! इसलिए भी मुझे ये गाना बदलना पड़ा!” -आयुष्मान ने सुर पर ब्रेक लगाते हुए कहा। उधर, इस ख़बर से देश भर में ख़ुशी की लहर दौड़ गई है। लोग एक-दूसरे को व्हाट्सएप्प पर मिठाइयाँ भेज रहे हैं। मनोज नाम के एक युवक ने बताया कि, “चलो! अच्छा हुआ! बहुत बड़ा एहसान किया इस लड़के ने हमारे ऊपर!”



ऐसी अन्य ख़बरें