Tuesday, 25th April, 2017
चलते चलते

बिग बी से नाराज़ अभिषेक ने घर छोड़ा, कहा- "आइडिया का सिम लोगे तभी लौटूंगा"

03, Feb 2017 By बगुला भगत

मुंबई. अमिताभ बच्चन के वोडाफ़ोन वाले ट्वीट से उठा तूफ़ान थमने का नाम नहीं ले रहा है। उस ट्वीट की वजह से उनके घर में महाभारत मची हुई है। अभिषेक ने उसी दिन से अपने पापा से बातचीत बंद कर दी थी और अब ख़बर मिली है कि कल रात वो घर छोड़कर भी चले गये।

Abhishek3
सिम की वजह से अमिताभ पर चिल्लाते अभिषेक

सूत्रों का कहना है कि बिग बी के उस ट्वीट के बाद ‘आइडिया’ के मालिक कुमार मंगलम बिड़ला ने अभिषेक को बुलाकर ख़ूब खरी-खोटी सुनाई- “अच्छा हुआ हमने पहले ही तुमसे ब्रांड एंबेसेडरी छीन ली। नहीं तो तुम हमारी कंपनी का पूरा भट्टा बिठा देते!”

फिर मंगलम ने ड्रॉअर में से सिम की गड्डी निकाली और मेज पर फेंकते हुए बोले- “जब तुम इन्हें अपने घरवालों को भी नहीं बेच सकते तो किसी अजनबी को क्या घंटा बेचोगे? बोलो! है कोई आइडिया सर जी?”

इस दुर्गति के बाद अभिषेक फुनफुनाते हुए सीधे घर पहुंचे और अमिताभ पर बरस पड़े- “आपने मुझे कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ा पा! आपने हमेशा मुझसे झूठ बोला। जब भी मैं कहता था कि पा लो ये सिम ले लो, तो बोलते थे बेटा मैंने तो ऑलरेडी ले रखा है।”

कहते-कहते अभिषेक रोने लगे। फिर शर्ट की बाजू से आँसू और नाक एक साथ साफ़ करते हुए बोले- “पा, आपने एक बार कहा तो होता! सिम कार्डों की लाइन लगा देता आपका बेटा! एक से बढ़कर एक प्लान दिलाता। आइडिया टू आइडिया फ्री आउटगोईंग! रात 12 बजे से 6 बजे तक सभी नेटवर्क पे फ्री! रोमिंग भी फ्री!”

“पर आपको तो वोडाफ़ोन लेना था ना! अब सारी दुनिया ताने मार रही है कि जब सगे बाप ने ही नहीं लिया तो और कौन लेता! इसीलिये वोडाफ़ोन वालों ने कॉन्ट्रैक्ट छीन लिया।”

बिग बी ने समझाना चाहा- “लेकिन बेटा अब तुम तो अब उनके ब्रांड एंबेसेडर भी नहीं हो, फिर इतनी टेंशन क्यूँ ले रहे हो?” तो अभिषेक गर्दन हिलाते हुए बोले-  “मैं हूं या नहीं, इससे मतलब नहीं है डैड! मतलब इससे है कि लोग क्या सोचेंगे! मेरी क्या इमेज बनेगी?”

“सच बात तो ये है कि आप मेरी क़ामयाबी से जलते हैं! इसलिये मैं अब इस घर में एक मिनट भी नहीं रुकूंगा!” फिर ऊपर वाले फ़्लोर की तरफ़ मुंह करके चिल्लाये- “ऐश्वर्या! तुम्हें मेरे साथ चलना है या नहीं?” फिर जवाब का इंतज़ार किये बिना बोले- “ठीक है तो, मत चलो!” और पैर पटकते हुए घर से निकल गये।

जब हमने ‘जलसा’ के चौकीदार रामू काका से अंदर की बात निकालनी चाही तो उन्होंने खैनी रगड़ते हुए कहा- “बबुआ कौन सा पाकिस्तान चले गये! यहीं तो गये हैं पिछले वाले बंगले में। पॉकेट मनी खतम हो जायेगा तो आ जायेंगे दो-चार दिन में!”

फिर वो हमारे रिपोर्टर के कान में फुसफुसाते हुए बोले- “सच्ची बात तो ये है कि बड़े साब किसी के सगे नहीं हैं। ना अमर सिंह के ना अंबानी के और ना अपने बेटे के!” कहकर उन्होंने खैनी मुंह में डाली और चुप हो गये।



ऐसी अन्य ख़बरें