Monday, 21st August, 2017

चलते चलते

हल्दी दूध के घोल को दवाई बता कर बेचती रही दादी माँ, कुछ ही दिनों में बनी करोड़पति

29, Aug 2016 By banneditqueen

घंसौर. ‘दादी माँ के नुस्खे’ -यह कॉलम तो आपको हर किताब में मिल ही जाता होगा। किताब नहीं तो आपके परिचित व्हॉट्सएप पर फॉरवर्ड कर करके दनादन दादी माँ के नुस्खे भेजते रहते होंगे। ऐसे नुस्खों से और बाबा रामदेव से प्रेरित होकर घंसौर की 67 वर्षीय कमला बाई ने भी एक तरकीब सोची। उन्होंने ‘जादू का घूँट’ नाम से एक दवा बेचनी शुरू की।

Old Lady 2
घर के पिछवाड़े ‘जादू का घूंट’ बनातीं कमला बाई

किसी को कोई भी बीमारी होती तो वह जादू का घूँट दवा बोलकर पिला देती। धीरे धीरे उनकी दवा मशहूर होने लगी। गाँव के नसीम ने बताया कि “मेरे फेफड़ों में हमेशा शिकायत रहती थी। कमला अम्मा ने कहा- जादू के घूँट में लहसुन और अदरक का पेस्ट डालकर गरम कर पीते रहो। 2 हफ्ते में ठीक हो जाओगे और मैं एक ही हफ्ते में ठीक हो गया।” धीरे धीरे कमला बाई पूरे जिले में मशहूर हो गईं। लोग दूर दूर से उनके पास दवा लेने आने लगे।

कई महीनों तक उनकी दवा धड़ल्ले से बिकती रही। फिर अचानक एक दिन एक मरीज़ ने कमला बाई के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कर दी कि वो लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ और धोखाधड़ी कर रही हैं। पुलिस ने तुरंत कमला बाई के घर छापा मारा और देखा कि उनके पास करोड़ों की सम्पत्ति है। पुलिस को घर के पीछे एक खुफिया कमरा मिला, जिसमें बहुत सारा हल्दी पाउडर और साथ ही एक गाय भी बंधी हुई थी। पुलिस ने कमला बाई को तुरंत हिरासत में ले लिया।

कमला बाई ने रोते हुए पुलिस को बताया कि “हमाए जमाने से हम हल्दी दूध का इस्तेमाल करते आ रहे हैं, कोई भी बच्चा बीमार हो तो हम उसे हल्दी दूध ही पिलाते थे, तो हमने सोचा जब बाबा रामदेव तरह तरह के जूस बेचकर नाम और माल कमा रहे हैं तो हम भी काए नई कमाएँ।” इस खुलासे के बाद कई लोग सकते में हैं, तो कुछ लोग यह सोचकर खुश हैं कि अब वे भी ये दवा ख़ुद बनाकर करो़ड़पति बन सकते हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें