Friday, 28th April, 2017
चलते चलते

अपना लकी बनियान उतारते ही बाथरूम में फिसलकर गिरे सनी देओल, ढाई किलो के हाथ की हड्डी टूटी

03, Sep 2015 By बगुला भगत

मुंबई. बॉलीवुड के पूर्व अभिनेता सनी देओल कल नहाते समय बाथरूम में फिसलकर गिर पड़े। हादसे में उन्हें ज़्यादा चोट तो नहीं आयी लेकिन उनके ढाई किलो के हाथ में फ्रैक्चर हो गया। डॉक्टरों ने उन्हें समझाया है कि अपना लकी बनियान हमेशा पहनकर रखें और 8 PM के बाद कुछ और ना लें।

सनी के नौकर रामू काका ने हादसे की जानकारी देते हुए बताया कि “बाबा ने कई महीनों से एक मिनट के लिये भी अपना लक्स कोज़ी  बनियान नहीं उतारा था। एक-दो बार नहाये भी थे तो बनियान पहनकर ही!”

हाथ की चोट को छुपाते और अपने अनुभव से सलाह देते हुए सन्नी देओल जी
हाथ की चोट को छुपाते और अपने अनुभव से सलाह देते हुए सनी देओल जी: “अगर मेरे ढाई किलो के हाथ की ये हालत हो सकती है तो आम आदमी की क्या औकत”

“पिछले छह महीने से वो भी बंद हो गया था। काम-धाम कुछ था नहीं, इसलिये अंधविश्वास के चक्कर में एक के बजाय दो-दो बनियान पहनने लगे थे। नहाना-धोना सब बंद!”

“मैंने कहा- बाबा, बॉडी पे ढाई किलो मैल चढ़ गया है। सारे घर में बदबू फैल रही है। इस बनियान को उतार दो और जाओ नहा लो। तो कहने लगे- अगर कोई प्रोड्यूसर फ़िल्म का ऑफ़र लेकर आ रहा हो और मेरे बनियान उतारते ही वो वापस चला गया तो? ये सुनकर मैं भी चुप हो गया।”

रामू काका ने चाय-बिस्किट रखते हुए कहा, “दिन बीतते गये लेकिन कोई प्रोड्यूसर नहीं आया। तो एक दिन रोते हुए कहने लगे- रामू काका, मुझ सनी (देओल) को काम नहीं और उस सनी (लियोन) को आराम नहीं! उसे कैसे इतना काम मिल जाता है।”

“मैंने समझाया- बाबा, आपके पास नो हिप नो बट, ओनली जट! इन डौलों से कब तक काम चलेगा। पचपन से ऊपर के हो गये हो। मेरी बात मानो, गोविंदा की तरह कोई गुटखे-वुटके की एड कर लो। कम से कम शाम का खर्चा तो निकल आयेगा।”

“तो मुझसे बोले- काका, डौले से याद आया! डॉली आंटी कह रही थी कि अगर मैं एक बार राधे मां को गोद में उठाकर उनका प्रसाद ले लूं तो गजेंद्र अंकल की तरह मेरे भी दिन फिर जायेंगे। मैंने कहा, ये भी करके देख लो।”

“बस जी, ये राधे मां से आशीर्वाद लेने के लिये घर से निकले ही थे कि तभी उनके दरबार में छापा पड़ गया। ये वापस हो लिये और लौटते हुए किसी का हैंडपंप भी उखाड़कर ले आये।”

“घर पहुंचते ही ग़ुस्से में बनियान उतारे और सीधे बाथरूम में घुस गये। दरवाजा बंद करते ही पहले धड़ाम की आवाज़ आयी और फिर इनके चिल्लाने की- ‘ऊईईई…मेरा हाथ! कुत्ते-कमीने! पाकिस्तान तेरी #@$%, मुशर्रफ़ तेरी $#@%!’ और ये गालियां देते हुए बेहोश हो गये।”



ऐसी अन्य ख़बरें