Saturday, 29th April, 2017
चलते चलते

इस दिवाली सबका मुंह होगा मीठा, कोलगेट लांच करेगा चॉकलेट और केसर-पिस्ता फ्लेवर वाले टूथपेस्ट

24, Oct 2015 By Pagla Ghoda

नई दिल्ली: दीपावली के पावन उपलक्ष्य को कैश कराने की दौड़ में कुछ कंपनियों ने सारी हदें ही पार कर ली हैं| इसका ताज़ा उदहारण है कोलगेट कंपनी का ऐलान जिसके अनुसार इस दीपावली पर टूथपेस्ट नए चॉकलेट और केसर पिस्ता फ्लेवर्स में बेचे जायेंगे|

कोलगेट की दो नयी फ्लेवर की टूथपेस्ट: केसर-पिस्ता (उपर-येल्लो कलर में) और चॉकलेट (नीचे- ब्राउन कलर में)
कोलगेट की दो नयी फ्लेवर की टूथपेस्ट: केसर-पिस्ता (उपर-येल्लो कलर में) और चॉकलेट (नीचे- ब्राउन कलर में)

टूथपेस्ट डिवीज़न के सीनियर मैनेजर दानिश दीवाना ने मीडिया को इस मामले में और जानकारी दी| उन्होंने कहा – “बच्चे बुड्ढों सभी को मीठा पसंद है, और त्योहारों पर तो ख़ास तौर से| पर हम टूथपेस्ट कंपनियां इन त्योहारों पर अपने ग्राहकों को कुछ नया नहीं दे पाती, जो की चॉकलेट या आइस-क्रीम कंपनियां दे पाती हैं| इसिलए हमारी एक नयी कोशिश है इस तरह के मीठे फ्लेवर्स बनाकर ग्राहकों के दिल जीत लेने की|”

जब उनसे पुछा गया के क्या-क्या फ्लेवर्स बेचे जायेंगे तो उन्होंने कहा, “शुरुआत होगी चोको और केसर-पिस्ता से| उसके अगले हफ्ते हेज़लनट फ्लेवर का टूथपेस्ट लांच होगा| इसमें कुछ ड्राई फ्रूट्स एंड नट्स भी मिले होंगे| इनकी कामयाबी को देखकर, बाद में कैरेमल, फ्रूट एंड नट्स और रिच-क्रीम वाले टूथपेस्ट लांच किये जायेंगे| सबसे अच्छी बात तो ये है के इन टूथपेस्ट के अंदर के भरे हुए मीठे पदार्थों से दांत जितने ख़राब होंगे, उन्हें टूथपेस्ट के अंदर मिले शक्तिशाली चेमिकल्स उसी समय ठीक भी कर देंगे| है न सोने पे सुहागा?” – दानिश ने हँसते हुए चुटकी ली|

जहाँ इन टूथपेस्ट्स के लांच से दन्त-चिकित्सा के क्षेत्र में उत्साह है वही कुछ डेंटिस्टस के अनुसार भारतीय जनता अभी ऐसे क्रांतिकारी उत्पादों के लिए तैयार नहीं है| मशहूर दन्त चिकित्सक वोलेश कैंचीवाला के अनुसार, “टूथपेस्ट और मिठाई को मिक्स करने का आईडिया ठीक नहीं| कुछ लोग इसे स्वीकार नहीं कर पाएंगे| एक तरफ सजग माता पिता अपने बच्चो को मीठा खाने से रोकेंगे और दूसरी तरफ ऐसे टूथपेस्ट्स से ब्रश करवाएंगे? ये मुझे दूर की कौड़ी ही लग रही है|”

जानी मानी पत्रकार मोंजोलिका पराशर ने भी इस लांच की कड़े शब्दों में निंदा की है, “मीठे टूथपेस्ट से बच्चो के दांत ख़राब होंगे वो तो अलग बात है, पर दुःख की बात तो ये है के इन नए टूथपेस्ट्स को दिवाली के समाये ही क्यों लांच किया जा रहा है, इन्हे क्रिसमस, ईद या पारसियों के किसी पावन दिन भी लांच किया जा सकता था| सेकुलरिज्म पर ये एक कड़ा आघात होगा|

हालाँकि ये टूथपेस्ट कितने सफल होंगे ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा पर विशेषज्ञों की मानें तो इन क्रांतिकारी टूथपेस्ट्स में पूरी डेंटल सोल्यूशन्स इंडस्ट्री को हमेशा के लिए बदल देने का माद्दा अवश्य है|



ऐसी अन्य ख़बरें