Tuesday, 24th October, 2017

चलते चलते

पैसे बचाने के 'टिप्स' लेने ट्रेनिंग सेंटर गया युवक, लोन के कागज़ात लेकर घर लौटा

09, Oct 2017 By Ritesh Sinha

भोपाल. शहर के होनहार युवक कुंदन त्यागी को पता चला कि शहर में एक नया ट्रेनिंग सेंटर खुला है, जहाँ एक्सपर्ट्स पैसा बचाने की तरकीब बताते हैं। कुंदन को लगा कि त्यौहारों का मौसम है, पैसे बहुत खर्च होंगे, इसलिए यह कोर्स एक बार कर लेना चाहिए, शायद काम आ जाए। उसने तुरंत ‘ट्रेनिंग फीस’ देकर अपना नाम इस इस सेंटर में एनरोल करवा लिया। लेकिन उसे क्या पता था कि पैसे बचाने का इस दुनिया में कोई शार्टकट तो क्या, लॉन्ग-कट भी नहीं है! नतीजा यह हुआ कि कुंदन सातवें दिन लोन लेने के कागज़ात लेकर अपने घर लौटा। अब वह उन ट्रेनिंग देने वालों को जी भरकर गालियाँ दे रहा है।

Husband-Wife 3
इस बेवकूफ़ी पर पत्नी के ताने सुनता कुंदन

“कुछ तो सिखाया होगा उन्होंने? इतनी महँगी फीस किस बात की ली थी?” -ऐसा पूछे जाने पर कुंदन ने बताया, “अरे! फिर से उनकी याद मत दिलाओ! साले! सब एक नंबर के चोर थे! वो क्या मुझे पैसा बचाना सिखाएंगे? उनके चक्कर में मेरा इस महीने का बजट गड़बड़ा गया, इसलिए बैंक से लोन के पेपर लेकर आया हूँ!” -कहता हुआ कुंदन उस फॉर्म में अपनी फोटो चिपकाने लगा।

“फिर भी कुछ तो सिखाया ही होगा!” -हमारे रिपोर्टर ने कहा तो कुंदन ग़ुस्से में बोला, “हाँ, एक मोटे एक्सपर्ट्स ने बताया कि ‘अपने हर रोज़ के खर्चे को लिखकर रखो’ यह सुनते ही मेरा मूड खराब हो गया। ऑफिस में भी दिन भर MS-Office पे चिपका रहता हूँ, तो क्या अब घर आकर भी एक्सेल शीट खोलकर बैठ जाऊं, खर्चा लिखने के लिए!”

फिर एक पतले एक्सपर्ट ने कहा कि ‘पब्लिक ट्रांसपोर्ट से ऑफिस जाइए और पैसे बचाइए!’ तो मैंने उसे बताया कि, “हे धुमकेतू! मैं पहले ही ऑटो से ऑफिस जाता हूँ!”

फिर एक गिलास पानी पीने के बाद कुंदन ने आगे बताया कि, “फिर एक गंजे आदमी ने भाषण दिया, जो अपने आप को “Future Planing एक्सपर्ट कहता था, उसने कहा कि ‘अपना क्रेडिट कार्ड अपनी बीवी से छुपाकर रखिए’ जैसे ही उसने ये कहा, मैंने पेन फेंककर उसके टकले पर मारा और पूछा- ‘..और ये किया कैसे जाता है?’ तो वो बगलें झाँकने लगा।”

“ऐसे-ऐसे टिप्स दिए जो या तो मैं पहले से जानता था, या जो असंभव थे! पूरा लूट लिया मुझे सालों ने!” -कहते हुए कुंदन फट पड़ा। उसने फॉर्म में अपना नाम-वाम भरा और बैंक जाने के लिए निकल पड़ा। उधर, पुलिस ने भी लोगों को हिदायत दी है कि ऐसे जालसाजों के चक्कर में ना फँसें, पैसे बचाने जैसी कोई चीज़ होती नहीं है।



ऐसी अन्य ख़बरें