Friday, 20th January, 2017
चलते चलते

नींबू कम पड़ने पर रसोइये ने सलाद पे छिड़का 'सौ नींबूओं की शक्ति' वाला डिटर्जेंट, मेहमान बीमार

21, Jul 2016 By Pagla Ghoda

फगवाड़ा, पंजाब: मशहूर रेस्टोरेंट ‘चंगेज़ी ज़ायका’ के शेफ मंगलू मेहता को कल भीड़ ने पीट पीट कर पुलिस के हवाले कर दिया। भीड़ का आरोप है कि उसने सलाद आइटम्स पर ‘विम डिटर्जेंट’ छिड़क दिया, जिसे खाकर चालीस लोगों को उल्टी-दस्त लग गये।

Vim1
सलाद का सच्चा साथी

अपनी सफाई में मंगलू ने साफ़ किया- “सलाद पर छिड़कने के लिए हमारे पास नींबू कम पड़ गए थे। इसलिये मजबूरी में मुझे सौ निम्बूओं की शक्ति वाला डिटर्जेंट छिड़कना पड़ गया। हैं तो वो भी नींबू ही!”

बाद में मंगलू ने मीडिया को बताया, “ओ प्राजी मैंने तो टीवी पे मैडम जी का विज्ञापन देखा था जी। मैडम जी कह रही थीं कि इस डिटर्जेंट में मैंने सौ नींबू डाले हुए हैं। मैंने थोड़ा सलाद पे छिड़क दिया तो क्या हो गया जी। वैसे भी, अगर आप ‘उड़ता पंजाब’ फिलम देखो तो आपको पता चल जायेगा कि यहाँ पे ज़्यादातर लोग एक्सपेरिमेंट तो करते ही रहते हैं, खाने पीने के चीज़ों के साथ।” मंगलू ने आँख मारते हुए कहा।

‘चंगेज़ी जायका’ की मालकिन श्रीमती सोनिका मखीजा ने टोरंटो से मीडिया को दिए गए स्काइप इंटरव्यू में तहे दिल से मंगलू के कृत्य के लिए माफ़ी मांगी है। पर इस वाकये ने पंजाब के मौजूदा सियासी हालात को और भी गरमा दिया है।

विपक्ष के नेता जगवंत ढींगरा ने इस पूरे हादसे को बादल सरकार की भीषण नाकामी बताते हुए एक प्रेस वार्ता में कहा, “ओ नी यार, मंगलू दी गलती नी है। अकालियां ने नींबू इन्ने महंगे कर छड्डे हैं कि गरीब आदमी नींबू खाये ते किथ्थों खाये? मैं तां वोडका पीनी छड्ड दी यार, महंगे निम्बुआं करके। की करिये? तुस्सी साड्डी सरकार आन दो। सारे चखने वालियां आइटमां नूं असी होलसेल दे रेट ते वेचांगे, ऐ साड्डा प्रॉमिस आ।”

इसके बाद जगवंत ने अपनी जेब में रखी एक बोतल से दो सिप मारने के बाद करीब पैंतालीस मिनट तक मीडिया से फर्राटेदार अंग्रेजी में बातें की। इसके तुरंत बाद सभी मौजूदा पत्रकारों को ढाई-ढाई सौ ग्राम नींबू के पैकेट बांटे गए।



ऐसी अन्य ख़बरें