Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

रातों रात पैदा हुए बिटकॉइन के लाखों एक्सपर्ट्स, रिसर्च में हुआ खुलासा

08, Dec 2017 By banneditqueen

दिल्ली. कल तक क्रिप्टोकरंसी को हवा का झोंका बता रहे लोग आज इस बात का दुःख मना रहे हैं कि जब बिटकॉइन 120 डॉलर यानि लगभग 7000-8000 रूपये का था तभी खरीद लिए होता तो आज करोड़पति ना सही लखपति ज़रूर होते। बिटकॉइन आज तक़रीबन नौ लाख पचास हज़ार के पार जा चुका है, कुछ ही महीने पहले तक जिसकी कीमत लाख सवा लाख रूपये ही थी। आम जनता उस पैसा को खोने का मलाल कर रही है जो उसके हाथ में आया ही नहीं।

bitcoinऐसे में हर कोई बिटकॉइन खरीदने या न खरीदने के कारण गिना रहा है और यह भी उम्मीद कर रहा है कि बिटकॉइन के रेट इतने कम हो जाएं कि बिटकॉइन न खरीद पाने का मलाल न रहे। एक रिसर्च के अनुसार पिछले तीन दिनों में बिटकॉइन पर थीसिस लिखने वालों की तादाद बढ़ चुकी है। ओबिट्रेड नामक ट्रेडिंग वेबसाइट चलाने वाले शशांक अवस्थी ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि ”पिछले तीन दिनों में लोग अपने फ़ोन में जेबपे ऍप डाल कर बैठे हुए हैं और बिटकॉइन का रेट ऊपर नीचे जाते हुए देख रहे हैं। लोगों ने इंटरनेट से इतनी जानकारी इकठ्ठा कर ली है कि फोन कर कर के मुझे ही ज्ञान दे रहे हैं।”

पानवारी से हज़ारों रूपये का उधार रखने वाले अक्षर पाठक भी बिटकॉइन खरीद पाने का मलाल कर रहे हैं। उन्होंने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि ”मुझे कुछ साल पहले एक दोस्त ने बोला ज़रूर था कि बीस-तीस हज़ार रूपये बिटकॉइन में लगा दे, पर मुझे लगा वो बस अपनी उधार दिए हुए पैसे वापस लेने के लिए ऐसे ऊल जुलूल इन्वेस्टमेन्ट आइडिया दे रहा है। पैसे तो मुझे वापस करने नहीं थे इसलिए उस दोस्त को फ़ोन पर ब्लॉक कर दिया, अब दुःख हो रहा है उसकी बात सुन ली होती तो आज करोड़पति होता और चौरसिया जी को उनसे उधार लिया हुआ पैसा भी वापस दे देता।” ऐसा कहते हुए अक्षर ने एक सिगरेट का पैकेट लिए और चौरसिया जी से खाते में लिखने को कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें