Monday, 27th February, 2017
चलते चलते

'बांगर सीमेंट' वाले अंग्रेज़ दादा जी का सर फूटा, दीवार की मजबूती चेक करते समय हुआ हादसा

28, Sep 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. बांगर सीमेंट की मजबूती चेक करने वाले बुज़ुर्ग सीमेंट एक्सपर्ट एडॉल्फ वॉल्टर के सर में कल चोट लग गयी, जिसकी वजह से उनके सर में पंद्रह टांके लगाने पड़े हैं। फिलहाल उनकी हालत ख़तरे से बाहर बतायी जा रही है लेकिन चोट की वजह से उनकी याद्दाश्त चली गयी है। डॉक्टर बार-बार उनके कान में ‘बांगर-बांगर’ और ‘सस्ता नहीं सबसे अच्छा’ बोल रहे हैं लेकिन वो किसी को पहचान नहीं पा रहे हैं।

Bangur Cement
मिस्टर वॉल्टर की हादसे से पहले की तस्वीर

मिस्टर वॉल्टर को टांके लगाने वाले डॉक्टर मित्तल ने बताया कि “चोट बहुत गहरी है, जिसकी वजह से इन्हें टोटल मेमोरी लॉस हो गया है।”, “लेकिन डॉक साब ये तो ऐसे अपना सर मारते ही रहते हैं, फिर आज क्या हो गया?”, इस पर डॉक्टर मित्तल ने बताया कि “इस बार ग़लती से इन्होंने एक पुरानी बिल्डिंग की दीवार पे सर दे मारा। इन्हें लगा कि सर मारूंगा और दीवार भरभरा के गिर जायेगी लेकिन शायद इन्हें पता नहीं है कि इंडिया में जब इतना करप्शन नहीं था तो कंस्ट्रक्शन में रेत कम और सीमेंट ज़्यादा यूज होता था।”

“इसलिये आईंदा के लिये मेरी सलाह है कि ये अपने सर का प्रयोग ना करें। और अगर करना भी हो तो पहले अच्छी तरह चेक कर लें कि दीवार कितनी पुरानी है, उसके बाद ही अपना सर ट्राई करें।” -डॉक्टर मित्तल ने उनके सर पे हाथ फिराते हुए कहा।

इस हादसे के एक प्रत्यक्षदर्शी ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “हम सब दिल्ली गेट पे खड़े थे कि तभी ये अंग्रेज़ बुड्ढा आया और ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगा- ‘सास्ता नाई साबसे आच्छा…सास्ता नाई साबसे आच्छा’, इससे पहले कि हम कुछ समझते इसने झट से दीवार पे अपना सर दे मारा। सर मारते ही बुड्ढे को चक्कर आ गया और नीचे गिर पड़ा। हमने दौड़कर इसे उठाया और हॉस्पिटल लेकर गये। ये सारे रास्ते भी यही बड़बड़ाता रहा- ‘सास्ता नाई साबसे आच्छा…सास्ता नाई साबसे आच्छा’! तो हमने कहा- ठीक है बाबा, सस्ता नहीं, सबसे अच्छा इलाज करायेंगे। फिकर मत करो!”



ऐसी अन्य ख़बरें